राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर1800 425 00 000

Security

Security

Security Alert – SOVA Android Trojan!!

सुरक्षा

ग्राहकों और आम जनता के लिए सुरक्षा चेतावनी

इंडियन बैंक कभी भी किसी भी ग्राहक के गोपनीय/व्यक्तिगत विवरण की जानकारी मांगने के लिए कोई ई-मेल नहीं भेजता है। यदि आपको यूजर नाम, पासवर्ड, कार्ड विवरण, ओटीपी या कोई अन्य व्यक्तिगत जानकारी मांगने से संबंधित इंडियन बैंक से भेजे गए प्रतीत होनेवाले कोई ई-मेल प्राप्त होता है, तो कृपया आप sochelpdesk@indianbank.co.in या ebanking@indianbank.co.in पर तुरंत रिपोर्ट करें। यह एक फ़िशिंग मेल हो सकता है।

नेट बैंकिंग वेबसाइट के यूजर आईडी और पासवर्ड, एटीएम कार्ड, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड के नंबर और संबंधित पिन और ऑनलाइन वित्तीय जानकारी जैसे कि बैंक खाता संख्या आदि अत्यधिक गोपनीय हैं। इन्हें किसी अन्य से साझा न करें।

हमारी वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए किसी भी अज्ञात लिंक पर क्लिक न करें। इंडियन बैंक की वेबसाइट/ नेट बैंकिंग पेज को एक्सेस करने के लिए हमेशा ब्राउज़र एड्रेस फील्ड में http://www.indianbank.in या https://www.indianbank.net.in टाइप करें।

फ़िशिंग से सावधान रहें

हाल ही में फ़िशिंग की घटनाओं में वृद्धि हुई है जो हमारे बैंक सहित दुनिया भर के अग्रणी बैंकों के ग्राहकों को अपना लक्ष्य बनाती है। इसलिए ग्राहकों को ऐसे हमलों के बारे में सचेत करने के लिए जो वास्तव में बैंक द्वारा भेजे गए प्रतीत होनेवाले एक संदिग्ध ई-मेल के माध्यम से शुरू होता है, हम उनके द्वारा ग्राहकों को शिकार बनाने के तरीके की जानकारी दे रहे हैं कि कैसे वे अनजाने ग्राहकों से व्यक्तिगत विवरण प्राप्त करना चाहते हैं और कैसे हमें उनका शिकार होने से बचना है।

फ़िशिंग

फ़िशिंग साइबर हमले का एक रूप है जिसमें स्कैमर इंटरनेट उपयोगकर्ताओं से उनके बैंक खातों और व्यक्तिगत विवरण के बारे में संवेदनशील जानकारी प्राप्त करते हैं। एक सामान्य ऑनलाइन फ़िशिंग धोखाधड़ी एक संदिग्ध ई-मेल संदेश से शुरू होता है जो किसी विश्वसनीय स्रोत जैसे कि बैंक, क्रेडिट कार्ड कंपनी, या प्रतिष्ठित ऑनलाइन मर्चेन्ट से आधिकारिक नोटिस की तरह दिखता है। इस तरह के संदिग्ध ई-मेल इनके प्राप्तकर्ताओं को अपने व्यक्तिगत विवरण को सत्यापित या अद्यतन करने और ऐसा नहीं करने पर उनके खाते निष्क्रिय हो जाने की सूचना देता है और उन्हें एक ऐसी वेबसाइट पर निर्देशित करता है जो वास्तविक संगठन की वेबसाइट की तरह दिखती है। यदि ग्राहक ई-मेल में लिंक का अनुसरण करते हैं और अपनी व्यक्तिगत विवरण प्रस्तुत करते हैं, इस प्रकार वे विवरण वास्तव में धोखेबाजों को उपलब्ध हो जाते हैं जिससे पहचान की चोरी हो जाती है और वे बाद में इस विवरण का उपयोग ऑर्डर देने, सेवाओं, खातों से पैसे अंतरण करने आदि के लिए करते हैं।

फ़िशिंग का शिकार होने से बचें

कृपया ऐसे कपटपूर्ण ई-मेलों से सावधान रहें जो इंडियन बैंक द्वारा भेजे गए प्रतीत होते हैं। इस तरह के ई-मेल ग्राहकों से ई-मेल में दिये गए लिंक पर क्लिक करके अपने व्यक्तिगत विवरण की पुष्टि करने या इसे अद्यतन करने के लिए कहते हैं और ऐसा नहीं करने पर उनके खातों को प्रतिबंधित या ब्लॉक करने की धमकी देते हैं।

हम एक बार फिर इस बात पर जोर देकर बताना चाहते है कि इंडियन बैंक ई-मेल के माध्यम से ग्राहक के व्यक्तिगत विवरण जैसे कि क्रेडिट कार्ड/एटीएम कार्ड नंबर, पिन, इंटरनेट बैंकिंग पासवर्ड नहीं मांगता है। यदि आपको इंडियन बैंक की ओर से खाता संबंधी संवेदनशील जानकारी अद्यतन करने का अनुरोध के लिए कोई ई-मेल प्राप्त होता है, तो कृपया उस ई-मेल को sochelpdesk@indianbank.co.in [24 x 7 उपलब्ध] या ebanking@indianbank.co.in पर अग्रेषित करें।

नेट बैंकिंग वेबसाइट के यूजर आईडी और पासवर्ड, एटीएम कार्ड, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड के नंबर और संबंधित पिन और ऑनलाइन वित्तीय जानकारी जैसे कि बैंक खाता संख्या आदि अत्यधिक गोपनीय हैं। इन्हें किसी अन्य से साझा न करें। इंडियन बैंक कभी भी ई-मेल के माध्यम से ये जानकारी नहीं मांगता है।

हमारी वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए किसी भी अज्ञात लिंक पर क्लिक न करें। इंडियन बैंक की वेबसाइट/ नेट बैंकिंग पेज को एक्सेस करने के लिए हमेशा ब्राउज़र एड्रेस फील्ड में http://www.indianbank.in या https://www.indianbank.net.in टाइप करें।

इंटरनेट एक्सप्लोरर के लिए [एम/एस माइक्रोसॉफ्ट]

  • सही यूआरएल पता दर्ज करें, साथ ही इंडियन बैंक की इंटरनेट बैंकिंग साइट के ब्राउज़र के ऊपर/नीचे दिए गए अनुसार एसएसएल [सिक्योर सॉकेट लेयर] लॉक साइन भी देखें।

  • जब माउस कर्सर को लॉक के पास रखा जाएगा, तो डिस्प्ले इस प्रकार दिखेगी:

  • जब यूजर लॉक चिह्न पर डबल क्लिक करेगा, तो निम्न स्क्रीन प्रदर्शित होगी।

  • अब फ़िशरों और जालसाज़ों द्वारा संगठन के ब्रांड को हाइजैक किया जाना कठिन करने के लिए, हमने अपनी वेबसाइट में एक्सटेंडेड वैलिडेशन सिक्योर सॉकेट लेयर सर्टिफिकेट (ईवीएसएसएल) शामिल किया है। जब भी हमारी वेबसाइट एक्सेस की जाती है, तो नवीनतम ब्राउज़र सक्रिय होकर एड्रेस बार को हरे रंग में बदल देता है और हमारे बैंक का नाम प्रदर्शित करता है। माइक्रोसॉफ्ट इंटरनेट एक्सप्लोरर 7 और इसके बाद के संस्करण, फ़ायरफ़ॉक्स03 और इसके बाद के संस्करण, ओपेरा 9.5 और इन ब्राउज़रों के आगे के संस्करण इस एक्सटेंडेड वैलिडेशन एसएसएल फीचर को सपोर्ट करेंगे और ग्रीन बार को सक्रिय करेंगे। इसलिए ब्राउज़र के नए/उन्नत संस्करणों का उपयोग करें क्योंकि उन्हें फ़िशिंग साइटों द्वारा एक्सेस को ब्लॉक करने और आपको सचेत करने के लिए नियमित रूप से अद्यत किए जाते हैं। एक्सटेंडेड वैलिडेशन एसएसएल फीचर जो अब हमारी इंटरनेट बैंकिंग वेबसाइट में उपलब्ध है, नीचे प्रदर्शित की गई है [इंटरनेट एक्सप्लोरर]।

 

  • मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स ब्राउज़र सुरक्षा संकेतक को एड्रेस बार के बाईं ओर दर्शाता है और ओपेरा सुरक्षा जानकारी को एड्रेस बार के दाईं ओर प्रदर्शित करता है।

( अंतिम संशोधन Sep 21, 2022 at 01:09:51 PM )

आद्या से पूछें
ADYA